क्या पंडित पत्रकार ब्राह्मणों की आबादी को बढ़ा-चढ़ा कर लिखते रहते हैं?

0 434

 

एनडीटीवी समेत कई संस्थानों में लंबे समय तक कार्यरत रहे समरेंद्र सिंह (Samrendra singh) का कहना है कि क्या पंडित पत्रकार ब्राह्मणों की आबादी को बढ़ा-चढ़ा कर लिखते रहते हैं? कई वर्षों से सेल्फ एंप्लायड मोड में हैं। इन दिनों समरेंद्र ‘बोले भारत’ नाम से यूट्यूब पर डिजिटल चैनल शुरू करके विभिन्न विषयों पर खूब बोल रहे हैं।

‘बोले भारत’ में उनके ताजा बोल जाति को लेकर है। उनका कहना है कि ब्राह्मणों की आबादी उत्तर प्रदेश में उतनी है नहीं जितनी बताई जाती है।

सुनिए समरेंद्र सिंह (Samrendra singh) क्या कहते हैं…

उत्तर प्रदेश में सवर्णों की आबादी 18-20 प्रतिशत है इसमें से 13 प्रतिशत ब्राह्मण हैं। ठाकुर, भूमिहार, त्यागी, कायस्थ और बनिया – सब के सब बाकी बचे 5-7 प्रतिशत में हैं आप चौंक गए क्या? मैं भी ऐसे आंकड़े देखता हूं तो चौंक जाता हूं।

समरेंद्र सिंह इस मामले पर और क्या-क्या बोल रहे हैं पूरा सुनने के लिए नीचे दिया गया वीडियो देखें-

उत्तर प्रदेश में ब्राह्मणों की आबादी 10-16 प्रतिशत तक बताई जाती है। इस लिहाज से इनकी जनसंख्या सबसे ताकतवर ओबीसी समूह यादवों से भी काफी अधिक है। इन आंकड़ों का कोई ठोस आधार नहीं है। 1931 की जनगणना के आंकड़े भी फर्जी हैं। उसके बाद जातिवार जनगणना का कोई आंकड़ा नहीं है। पंडित पत्रकार ब्राह्मणों की आबादी को बढ़ा-चढ़ा कर लिखते रहते हैं। सबकी आबादी घटा कर बताते हैं और अपनी बढ़ा कर। ऐसा अनजाने में होता है या फिर आंकड़ों की इस बाजीगरी के पीछे कोई राजनीति छिपी है?

यह भी पढ़ें: Bihar Election : दूसरे चरण में शांतिपूर्ण मतदान, एक बजे तक 33 फीसदी वोटिंग

यह भी पढ़ें: पुलिस विभाग के दरोगा की दर्दनाक मौत, परिवार में मचा कोहराम

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More