वैक्‍सीन को लेकर न फैलाएं भ्रम, करें जागरूक: मोदी

0 207

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने सोमवार को देश को संबोधित किया. उन्‍होंने अपने संबोधन में कोविड के खिलाफ जारी लडाई में देशवासियों का उत्‍साह बढ़ाया और इस बीमारी के चलते अपनी जान गंवाने वालों के परिजनों के प्रति संवेदना व्‍यक्‍त की. उन्‍होंने कोरोना टीकाकरण को लेकर कुछ लोगों के द्वारा फैलाये जा रहे भ्रम की निंदा की और युवाओं से अपील की वो टीकाकरण के प्रति लोगों में जागरुकता फैलाएं. इसके अलावा पीएम ने कोरोना टीकाकरण को लेकर कुछ अन्‍य जरूरी घोषणाएं भी की.

यह भी पढ़ें : कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज ले चुके लोगों के लिए हवाई सफर आसान

सभी को लगेगा फ्री वैक्‍सीन: मोदी

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में बताया कि 21 जून, सोमवार से देश के हर राज्य में, 18 वर्ष से ऊपर की उम्र के सभी नागरिकों के लिए, भारत सरकार राज्यों को मुफ्त वैक्सीन मुहैया कराएगी. देश में बन रही वैक्सीन में से 25 प्रतिशत, प्राइवेट सेक्टर के अस्पताल सीधे ले पाएं, ये व्यवस्था जारी रहेगी. प्राइवेट अस्पताल, वैक्सीन की निर्धारित कीमत के उपरांत एक डोज पर अधिकतम 150 रुपए ही सर्विस चार्ज ले सकेंगे. इसकी निगरानी करने का काम राज्य सरकारों के ही पास रहेगा. इसके अलावा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को अब दीपावली तक आगे बढ़ाया जाएगा. यानि नवंबर तक 80 करोड़ से अधिक देशवासियों को, हर महीने तय मात्रा में मुफ्त अनाज उपलब्ध होगा.

PM Narendra Modi
PM Narendra Modi

केन्‍द्र की करेगा वैक्‍सीन का इंतजाम

इस साल 16 जनवरी से शुरू होकर अप्रैल महीने के अंत तक, भारत का वैक्सीनेशन कार्यक्रम मुख्यत: केंद्र सरकार की देखरेख में ही चला. वैक्‍सीनेशन का कार्य सुचारू रूप से चले इसके लिए एक मई के पहले वाली, यानि 1 मई के पहले 16 जनवरी से अप्रैल अंत तक जो व्यवस्था थी, पहले वाली पुरानी व्यवस्था को फिर से लागू किया जाए. आज ये निर्णय़ लिया गया है कि राज्यों के पास वैक्सीनेशन से जुड़ा जो 25 प्रतिशत काम था, उसकी जिम्मेदारी भी भारत सरकार उठाएगी. ये व्यवस्था आने वाले 2 सप्ताह में लागू की जाएगी. इन दो सप्ताह में केंद्र और राज्य सरकारें मिलकर नई गाइड-लाइंस के अनुसार आवश्यक तैयारी कर लेंगी. वैक्सीन निर्माताओं से कुल वैक्सीन उत्पादन का 75 प्रतिशत हिस्सा भारत सरकार खुद ही खरीदकर राज्य सरकारों को मुफ्त देगी. यानि देश की किसी भी राज्य सरकार को वैक्सीन पर कुछ भी खर्च नहीं करना होगा. अब तक देश के करोड़ों लोगों को मुफ्त वैक्सीन मिली है.

यह भी पढ़ें : सरकारी प्रयासों का असर, यूपी के युवाओं को भाने लगी है ‘मछली’

23 करोड़ से ज्यादा लोगों को लग चुकी है वैक्‍सीन

पीएम ने भारत में टीकाकरण अभियान की सराहना करते हुए कहा कि हमारे देश ने, देश के वैज्ञानिकों ने ये दिखा दिया कि भारत बड़े बड़े देशों से पीछे नहीं है. आज जब मैं आपसे बात कर रहा हूं तो देश में 23 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन की डोज़ दी जा चुकी हैं. उन्‍हेांने कहा कि हमें पूरा विश्वास था कि हमारे वैज्ञानिक बहुत ही कम समय में वैक्सीन बनाने में सफलता हासिल कर लेंगे. इसी विश्वास के चलते जब हमारे वैज्ञानिक अपना रिसर्च वर्क कर ही रहे थे तभी हमने लॉजिस्टिक्स और दूसरी तैयारियां शुरू कर दीं थीं. आत्मनिर्भर भारत पैकेज के तहत मिशन कोविड सुरक्षा के माध्यम से भी उन्हें हज़ारों करोड़ रुपए उपलब्ध कराए गये. पिछले काफी समय से देश लगातार जो प्रयास और परिश्रम कर रहा है, उससे आने वाले दिनों में वैक्सीन की सप्लाई और भी ज्यादा बढ़ने वाली है. आज देश में 7 कंपनियाँ, विभिन्न प्रकार की वैक्सीन का प्रॉडक्शन कर रही हैं. तीन और वैक्सीन का ट्रायल भी एडवांस स्टेज पर चल रहा है.

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More