फडणवीस ने CM पद से दिया इस्तीफा, राज्यपाल ने किया मंजूर

महाराष्ट्र में जारी सियासी संकट थमने का नाम नहीं ले रहा है।

देवेंद्र फडणवीस राज्यपाल से मिलने राजभवन पहुंचे।

वहीं शिवसेना नेता संजय राउत एनसीपी चीप शरद पवार से मिलने पहुंचे।

बीजेपी या शिवसेना में से अभी तक किसी ने भी सरकार बनाने का दावा नहीं किया।

ऐसे में राजनीतिक संकट और गहराता जा रहा है।

इस बीच कांग्रेस ने अपने सभी विधायकों की एक बैठक बुलाई है।

भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना में खींचतान जारी

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना में खींचतान जारी है।

महाराष्ट्र में नई सरकार के गठन को लेकर इंतजार और लंबा होता जा रहा है।

जहां भाजपा ने अब तक सरकार बनाने का दावा पेश नहीं किया है, वहीं शिवसेना बार-बार मुख्यमंत्री पद की साझेदारी पर अड़ी है।

शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के हवाले से कहा गया कि भाजपा उनसे तभी संपर्क साधे जब मुख्यमंत्री पद शिवसेना को देने के लिए तैयार हो।

उद्धव ठाकरे ने बृहस्पतिवार को घंटे भर तक चली शिवसेना के नये विधायकों की बैठक की।

इस दौरान विधायकों ने पुराना नारा दोहराया।

कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले पदों और जिम्मेदारियों के समान बंटवारे के जिस विचार पर सहमति बनी थी, उसे लागू किया जाना चाहिए।

महाराष्ट्र में सरकार गठन की समयसीमा जैसे-जैसे खत्म होती जा रही है, वैसे ही राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू होने के संकेतों को बल मिलता दिख रहा है।

बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा का मौजूदा कार्यकाल नौ नवंबर को खत्म हो रहा है।

 

यह भी पढ़ें: कमलेश तिवारी हत्याकांड : पुलिस को चकमा देने के लिए आरोपियों ने रची थी ये साजिश

यह भी पढ़ें: कमलेश तिवारी के हत्यारों को पिस्टल देने वाला गिरफ्तार

 

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)