सुबह होते-होते ही टूटा 17 सालों का रिकॉर्ड, सबसे कम तापमान में खुली दिल्लीवालों की आंख !

0 349

दिल्लीवासी पिछले 17 वर्षों में पहली बार सबसे कम तापमान के बीच रविवार सुबह नींद से जागे। लोधी रोड पर न्यूनतम तापमान 6.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अधिकारियों ने ये जानकारी दी। यह 29 नवंबर 2003 के रिकॉर्ड के सबसे करीब है जब पारा 6.1 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था।

अधिकतम तापमान 24 डिग्री रहने की उम्मीद-

हालांकि, सफदरजंग में तापमान 6.8 डिग्री तक दर्ज किया गया। अधिकारियों ने कहा कि लोधी रोड जैसे आइसोलेटेड स्थानों पर तापमान आईएमडी द्वारा दर्ज औसत से कम है।

आईएमडी अधिकारियों ने कहा कि इस बीच, रविवार को अधिकतम तापमान 24 डिग्री रहने की उम्मीद है।

आईएमडी के वैज्ञानिक और क्षेत्रीय मौसम पूवार्नुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने पहले बताया था कि रविवार को महीने की सबसे ठंडी रात पड़ सकती है।

उन्होंने कहा था कि हिमालयी राज्यों में बर्फबारी के बाद उठी सर्द हवाएं पारा 7 डिग्री तक ला सकती हैं।

आसमान साफ रहने से रातें ठंडी-

कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा, “जैसा कि हवा का रुख उत्तर-पश्चिम की ओर होना जारी है, जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश से ठंडी हवाएं आ रही हैं, जिससे बर्फबारी हो रही है। इसके अलावा, दिन में आसमान साफ रहने से गर्मी जल्दी खत्म होती है और रातें ठंडी होती हैं।”

हालांकि, श्रीवास्तव ने यह भी अनुमान लगाया कि अगले तीन-चार दिनों के लिए तापमान में वृिद्ध होने की संभावना है। उन्होंने कहा कि पश्चिमी विक्षोभ और हवा की दिशा में बदलाव से तापमान में वृद्धि होगी।

राष्ट्रीय राजधानी में शुक्रवार सुबह न्यूनतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री कम होकर 7.5 डिग्री सेल्सियस पर आ गया। आईएमडी अधिकारियों के अनुसार, नवंबर 2006 के बाद यह सबसे न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया था।

तापमान में गिरावट के लिए ये चीजें जिम्मेदार-

आईएमडी वैज्ञानिकों के अनुसार, नवंबर में न्यूनतम तापमान आमतौर पर 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे नहीं जाता है। उन्होंने दिल्ली में ठंडी हवाओं और साफ आसमान के संयोजन को तापमान में गिरावट के लिए जिम्मेदार ठहराया।

उन्होंने कहा कि नवंबर मध्य में एकल अंक में न्यूनतम तापमान में गिरावट असामान्य बात है। सर्दियों की शुरूआत इस साल जल्द हो रही है। रात के तापमान में तेज गिरावट मुख्य रूप से बर्फ से ढंके पश्चिमी हिमालय क्षेत्र से आने वाली ठंडी हवाओं के कारण है।

हवा की हालात खराब-

गुरुवार को शहर का न्यूनतम तापमान 9.4 डिग्री दर्ज किया गया था। 2017 में, नवंबर के आखिरी सप्ताह में न्यूनतम तापमान 7.6 डिग्री तक पहुंच गया था। पिछले नवंबर में सबसे कम तापमान 11.4 डिग्री और 2018 में 10.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

इस बीच, शहर की वायु गुणवत्ता सूचकांक 252 की रीडिंग के साथ शनिवार को ‘खराब’ श्रेणी में आ गई। ‘सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च’ ने कहा कि 1,264 फायर काउंट पड़ोसी राज्यों में देखा गया।

यह भी पढ़ें: दिल्ली की हवा कहीं ले ना ले आपकी जान! ऐसे बचें…

यह भी पढ़ें: देश में सुधर रहे हैं हालात, 15वें दिन दर्ज हुए 50 हजार से कम कोविड-19 मामले

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More