दिल्ली चुनाव : नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया शुरू

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों के पर्चा दाखिल करने की प्रक्रिया मंगलवार से शुरू हो गई है। नामांकन दाखिल करने के लिए चुनाव आयोग ने 36 चुनाव कार्यालय बनाए हैं। दिल्ली के 11 जिलों के चुनाव अधिकारी उम्मीदवारों के नामांकन पत्र लेने का काम करेंगे। निर्वाचन आयोग के अनुसार, दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख 21 जनवरी है। हालांकि 19 जनवरी को साप्ताहिक अवकाश के चलते नामांकन का काम नहीं होगा। उम्मीदवार 24 जनवरी तक अपना नामांकन वापस ले सकते हैं।

70 सीटों के चुनाव के लिए आठ फरवरी को मतदान

दिल्ली विधानसभा की सभी 70 सीटों के चुनाव के लिए आठ फरवरी को मतदान होना है। नतीजे 11 फरवरी को घोषित होंगे। वर्तमान विधानसभा का कार्यकाल 22 फरवरी को समाप्त हो जाएगा।

उल्लेखनीय है कि 2015 में हुए विधानसभा चुनाव में 924 उम्मीदवारों ने पर्चा दाखिल किया था, जिनमें से 231 उम्मीदवारों के नामांकन-पत्र खारिज हो गए थे। कुल 673 उम्मीदवार चुनावी मैदान में थे, जो कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में उम्मीदवारों की अबतक की सबसे कम संख्या रही है।

मुस्लिम किधर

देश की मुस्लिम आबादी इस समय कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर बेहद संवेदनशील है। नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019 और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर के मामलों में उसकी आशंकाओं का निवारण अभी भी नहीं हुआ है। इसी बीच जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्रों पर हुई पुलिसिया कार्रवाई ने उसे चौकन्ना कर दिया है।

लगातार विरोध प्रदर्शन हो रहा है

इस कार्रवाई के विरोध में लगातार विरोध प्रदर्शन हो रहा है। वहीं इन सबके बीच दिल्ली विधानसभा का चुनाव आने के बाद यह सहज सवाल पूछा जाने लगा है कि इस चुनाव में मुस्लिम वोट किधर जाएगा? माना जा रहा है कि अगर यह वोट बैंक पिछले विधानसभा चुनाव की तरह आम आदमी पार्टी के साथ बना रहा, तो वह दुबारा सत्ता में आ सकती है।

वोटों और सीटों में संभावित बंटवारा होने पर इसका लाभ भाजपा को

इसके उलट अगर यह लोकसभा चुनाव की तरह कांग्रेस के साथ गया, तो इससे कांग्रेस मजबूत होगी। वहीं वोटों और सीटों में संभावित बंटवारा होने पर इसका लाभ भाजपा को मिल सकता है और वह दिल्ली पर काबिज हो सकती है, जो राजधानी की सत्ता से 21 सालों से दूर है।

यही कारण है कि इस चुनाव में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस ही नहीं, भारतीय जनता पार्टी भी मुसलमान वोटरों को बड़े ध्यान से देख रही है।