डॉक्टरों ने कर दिया था मृत घोषित, घर लाते ही अचानक मुर्दा लेने लगा सांसें

0 762

एक तरफ जहां कोरोना से हो रही मौतों से लोग खौफ के साए में जी रहे हैं तो कहीं, जीवित व्यक्ति को ही मृत घोषित कर दिया जाता है। लखनऊ के नामी सरकारी अस्पताल की बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है। अस्पताल, जिंदा मरीज को मृत घोषित कर देता है।

मृत घोषित कर किया डिस्चार्ज

लखनऊ के गोमतीनगर स्थित राम मनहर लोहिया अस्पताल में रविवार को जीवित महिला मरीज को मृत घोषित करके डिस्चार्ज करने का मामला सामने आया है। परिजनों का आरोप है कि जब शव लेकर घर पहुंचे तो महिला की सांसें चल रही थीं। पास के अस्पताल के एक कंपाउंडर को जांच के लिए बुलाया गया था।

परिवार ने लगाए अस्पताल पर आरोप

सांस की तकलीफ के चलते लोहिया संस्थान में चार दिन पहले भर्ती हुई एक महिला मरीज को घरवालों ने जीवित रहते ही मृत घोषित करने का आरोप लगाया है। महिला मरीज को लोहिया की इमरजेंसी में भर्ती कराया था। स्ट्रेचर पर ही उन्हें आक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया था। शाम करीब साढ़े पांच बजे एक डाक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें : आखिर 3 मई को क्यों मनाया जाता है विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस ?

चल रहीं थीं सांसें- परिवार

परिवार वालों के अनुसार रविवार शाम 5.27 बजे मरीज को डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था। इसके बाद वह उन्हें अपने घर ले गए। खबरों की मानें तो परिवार वालों ने शाम 7.24 पर देखा कि मरीज मुंह से सांस लेने की कोशिश कर रही हैं। इसके बाद उन्हें घर पर ही तुरंत आक्सीजन सपोर्ट दिया गया। इसके बाद उसे आनन-फानन दूसरे अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

वीडियो तेजी से हुआ वायरल

घरवालों ने लोहिया संस्थान के डाक्टरों की कथित लापरवाही का वीडियो घर से ही बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। उन्होंने बताया कि मरीज को ऑक्सीमीटर लगाने पर उनका आक्सीजन का स्तर 99 व पल्स 50 शो कर रहा है। यह वीडियो लगातार वायरल हो रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार लोहिया संस्थान के सीएमएस ने कहा कि महिला के बारे में इस तरह की घटना होने की सूचना मिली है। मामले की जांच कराई जा रही है। यदि ऐसा हुआ होगा तो यह बहुत गलत है। दोषी डॉक्टर व कर्मचारियों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More