Corona: शुरूआती बढ़त के बाद फिसला Sensex, निफ्टी भी गिरा

छोटे कारोबारियों पर बड़ी मुसीबत बना कोरोना

0 12

घरेलू शेयर बाजार बुधवार को कमजोरी के साथ खुला लेकिन शुरूआती कारोबार के दौरान सेंसेक्स Sensex और निफ्टी दोनों में बढ़त दर्ज की गई। हालांकि यह बढ़त ज्यादा देर नहीं टिकी और जल्द ही सेंसेक्स Sensex और निफ्टी दोनों में गिरावट आ गई। सुबह 9.44 बजे सेंसेक्स Sensex पिछले सत्र से 88.44 अंकों यानी 0.33 फीसदी की तेजी के साथ 26,585.59 पर कारोबार कर रहा था और निफ्टी भी 42.90 अंक नीचे 7,758.15 पर बना हुआ था।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स Sensex पिछले सत्र के मुकाबले 174.22 अंकों की कमजोरी के साथ 26499.81 पर खुला और 27,299.44 तक उछला, हालांकि इस दौरान सेंसेक्स का निचला स्तर 26,458.52 रहा।

यह भी पढ़ें: आइये समझते हैं कोरोना वायरस का 1, 2 और 3 स्टेज

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित प्रमुख सूचकांक निफ्टी भी पिछले सत्र से 65.90 अंकों की गिरावट के साथ 7,735.15 पर खुला और 7,980.35 तक उछला, हालांकि शुरूआती कारोबार के दौरान निफ्टी का निचला स्तर 7,732.10 रहा।

छोटे कारोबारियों पर बड़ी मुसीबत बना कोरोना

कोरोनावायरस पूरे विश्व में संकट बना हुआ है। इस वायरस ने हर सेक्टर को प्रभावित किया है। उत्तर प्रदेश में खासकर इसका व्यापक असर छोटे व्यापारियों पर देखने को मिल रहा है। कोरोना छोटे किराना और सब्जी वालों पर बड़ी मुसीबत बन कर कहर बरपा रहा है। जनता कर्फ्यू के बाद जहां एक ओर माल ढोंने वाली गाड़ियों का समय से न पहुंच पाना मुसीबत बना है। लखनऊ लॉकडाउन होंने के कारण मंडियों का समय बदल गया है। जो छोटे ठेले और छोटी मंडिया हैं, सबसे ज्यादा उन्होंने मुसीबत खड़ी की है।

यह भी पढ़ें: जिंदगी में जब भी लगे डर, इन 4 बातों को जरूर याद रखें

मंडी बंद होने की सूचना फैला दी

आढ़तियों ने बताया कि लॉकडाउन की घोषणा के बाद लोगों ने मंडी बंद होने की सूचना फैला दी, जिस कारण सब्जी के दाम बढ़ गये। हालांकि थोक में यह मामूली बढ़ोतरी थी। लेकिन फुटकर दुकानदारों ने इसमें करीब 8 से 10 रूपये की बढ़ोतरी कर दी है।

आढ़तियों के अनुसार सब्जियों को लेकर मंडी आने वाले किसान व व्यापारी ने बंदी के डर से सब्जियों की खरीददारी अधिक मात्रा में कर ली है।

उधर, मानक नगर में सब्जी मंडी में दुकान लगाने वाले रामदिनेश का कहना है कि सब्जी दाम थोक में ही बढ़ा हुआ है। सब्जियां समय से मिल नहीं रही है। हरी सब्जी खासकर सड़ जा रही है।

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More