लखनऊ बना यूपी का कोरोना ‘हॉटस्पॉट’, डरा रहे हैं ये आंकड़े और शवदाह गृहों की तस्वीर

0 194

देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस (corona) के अब तक के सबसे ज्यादा 1 लाख 26 हजार 789 मामले दर्ज किए गए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी किए गए ये आंकड़े डराने वाले हैं. देश में अब कुल मामलों की संख्या 1 करोड़ 29 लाख 28 हजार 574 हो गई है। पॉजिटिव मामलों की संख्या चिंताजनक रूप से बढ़कर 9 लाख से ज्यादा हो गई है। 9 लाख10 हजार 319 पॉजिटिव मामलों के साथ अब भारत दुनिया में चौथे नंबर पर आ गया है। इसके अलावा देश में 2021 में एक ही दिन में सबसे ज्यादा 685 मौतें दर्ज हुईं हैं।

अंतिम संस्कार के लिए लेना पड़ रहा टोकन

लखनऊ में कोरोना (corona) से होने वाली मौतों को लेकर सरकारी आंकड़े भले ही कुछ भी बता रहे हों. लेकिन हालात बदतर हो गए हैं. इस बात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि, शवों का अंतिम संस्कार करने के लिए लंबी-लंबी कतारें लग रही हैं और टोकन के जरिए लोग शवों का अंतिम संस्कार कर रहे हैं. सरकारी आंकड़े बता रहे हैं कि, 18 मार्च से लेकर 27 अप्रैल तक यूपी में कोरोना (corona) से 32 मौतें हुई जबकि, लखनऊ में 12 लोगों ने कोरोना के चलते अपनी जान गंवाई. वहीं अगले 11 दिन 28 अप्रैल से लेकर 7 अप्रैल के बीच कोरोना से मौतों का आंकड़ा करीब 5 गुना बढ़ गया गया और इस दौरान आंकड़ा 32 से बढ़कर 178 पर पहुंच गया और राजधानी में चार गुना बढ़कर 53 तक पहुंच गया.

18 मार्च से लेकर 27 मार्च के बीच हुई मौतें
यूपी                         लखनऊ
18 मार्च- 2                    0
19 मार्च- 4                    1
20 मार्च- 1                    1
21 मार्च- 1                     0
22 मार्च- 1                     0
23 मार्च- 4                    0
24 मार्च- 4                    4
25 मार्च- 4                    1
26 मार्च- 6                    2
27 मार्च- 4                    3

28 मार्च से लेकर 7 अप्रैल का आंकड़ा

             यूपी                                   लखनऊ
28 मार्च- 3                                           0
29 मार्च- 11                                          4
30 मार्च- 10                                         4
31 मार्च- 5                                            2
1 अप्रैल- 9                                            2
2 अप्रैल- 16                                          9
3 अप्रैल- 14                                          6
4 अप्रैल- 31                                          8
5 अप्रैल- 13                                          5
6 अप्रैल- 30                                         5
7 अप्रैल- 31                                          6

कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों को लेकर कई राज्यों की सरकारें ठोस कदम उठा रही हैं. नाइट कर्फ्यू से लेकर लॉकडाउन लगाने पर विचार किया जा रहा है. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने टीम-11 के साथ बैठक के बाद सभी जिलों के डीएम को निर्देश दिए हैं कि, जिन जिलों में 500 से ज्यादा मामले आ रहे हैं वहां पर नाइट कर्फ्यू लगा सकते हैं. पिछले 24 घंटे की बात करें तो राज्य में 6 हजार 23 मामले सामने आए हैं जिसमें अकेले लखनऊ में कोरोना के 1 हजार 333 नए मामले दर्ज हुए हैं.

रात 9 बजे से लेकर सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू का ऐलान

राजधानी लखनऊ, कानपुर, वाराणसी और प्रयागराज में गुरुवार से रात 9 बजे से लेकर सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया गया है. ये आदेश 16 अप्रैल तक लागू रहेगा. इस दौरान आवाजाही और लोगों के निकलने को लेकर भी गाइडलाइन जारी की गई है. ग्रामीण इलाकों में नाइट कर्फ्यू नहीं लगाया गया है.

क्या मिलेगी छूट ?

नाइट कर्फ्यू के दौरान नाइट शिफ्ट के सरकारी, अर्द्ध सरकारी और निजी कंपनियों के कर्मचारियों को घर से ऑफिस आने-जाने की छूट दी गई है. जरूरी सेवाएं जैसे फल, सब्जी, दूध, मेडिकल के सामान की सप्लाई करने वाले वाहनों को छूट दी गई है. रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन और एयरपोर्ट पर आने-जाने के लिए टिकट दिखाना जरूरी होगा.

यह भी पढ़ें- यूपी के इन शहरों में लगा नाइट कर्फ्यू…

15 अप्रैल तक सभी शैक्षणिक संस्थानों को बंद करने के आदेश

प्रशासन की तरफ से 15 अप्रैल तक सभी शैक्षणिक संस्थानों को बंद करने के आदेश भी दिए गए हैं. ऑनलाइन क्लासेज भी बंद रहेंगी. जिन संस्थानों में परीक्षाएं चल रही हैं वो चलती रहेंगी. इस दौरान नियमों का सख्ती से पालन करवाने के निर्देश दिए गए हैं. इसके अलावा पार्कों को सुबह 7 से 10 बजे और शाम को 4 बजे से 8 बजे तक लोगों के टहलने के लिए खोले जाने की अनुमति दी गई है. पार्कों में बिना मास्क एंट्री पर रोक लगाई गई है. पार्कों में 65 साल से ऊपर, गर्भवती महिलाओं और 10 साल से छोटे बच्चों के जाने पर भी पाबंदी लगाई गई है.

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More