vidhyak

कांग्रेस विधायक एएल पाटिल, बैयापुर

कांग्रेस विधायक ने किया दावा भाजपा ने दिया ये ऑफर

कर्नाटक में सरकार बनाने की रेस में बीजेपी और कांग्रेस-जेडीएस खेमे के बीच जोर आजमाइश शुरू हो चुकी है। जहां कांग्रेस-जेडीएस अपने विधायकों की खरीद-फरोख्त को रोकने के लिए बैठकें कर रहे हैं, वहीं बीजेपी के विधायक ईश्वरप्पा ने दावा किया है कि उनके खेमे ने बहुमत के आंकड़े के बराबर विधायकों का समर्थन जुटा लिया है।

‘मेरे पास बीजेपी नेता का फोन आया था

लिंगायत समाज से आने वाले कांग्रेस विधायक एएल पाटिल बैयापुर (Amaregouda Linganagouda Patil Bayyapur) ने आरोप लगाया है कि बीजेपी उन्हें तोड़ने की कोशिश कर रही है। बैयापुर ने न्यूज एजेंसी ANI से कहा, ‘मेरे पास बीजेपी नेता का फोन आया था। उन्होंने मुझे मंत्री पद संभालने का ऑफर दिया है। लेकिन मैं नहीं जा रहा हूं। एचडी कुमारस्वामी ही हमारे मुख्यमंत्री होंगे।

Also Read :  18 लोगों पर मौत बनकर गिरा वाराणसी पुल, 4 अफसर सस्पेंड

बीजेपी विधायक ईश्वरप्पा ने दावा किया है कि जेडीएस और कांग्रेस के कई विधायक उनके संपर्क में है। हालांकि उन्होंने नाम खोलने से मना कर दिया। उन्होंने कहा कि हर हाल में बीजेपी सरकार बनाएगी।

बीजेपी के संपर्क में दिखे निर्दलीय विधायक

इसके अलावा रानी बेन्नूर से निर्दलीय विधायक शंकर भी बीजेपी के संपर्क में बताए जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि कि शंकर मंगलवार देर शाम बीजेपी विधायक ईश्वरप्पा के साथ देखे गए थे। मंगलवार दोपहर जेडीएस नेता एचडी कुमारस्वामी ने दावा किया था कि शंकर का समर्थन उन्हें प्राप्त है। मालूम हो कि ईश्वरप्पा बीजेपी की पिछली सरकार में कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री रह चुके हैं।

उधर, कांग्रेस के कुछ विधायकों ने आरोप लगाया है कि बीजेपी खेमा ने उन्हें पार्टी से अलग होने पर मंत्री पद का ऑफर किया है। हालांकि बीजेपी ने इन आरोपों को बेबुनियाद बताया है। मालूम हो कि 222 विधायकों वाली कर्नाटक विधानसभा में बहुमत के लिए 112 विधायकों का समर्थन चाहिए। इस वक्त बीजेपी को 104, कांग्रेस को 78, जेडीएस को 38 और निर्दलीय 2 विधायक हैं। बीजेपी को सत्ता में आने से रोकने के लिए कांग्रेस ने बिना किसी शर्त के जेडीएस को सरकार बनाने का ऑफर दे दिया है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)