चांद के इस अनजान हिस्से पर होगा बायोलॉजिकल एक्सपेरिमेंट

पेइचिंग। धरती से हमें चांद का एक तरफ का हिस्सा ही देखता है। चीन इसके दूसरी तरफ के हिस्से तक पहुंचने में कामयाब हो गया है। गुरुवार को सुबह 10:26 बजे चीन का लूनर रोवर ‘Chang’e-4’ चांद के उस अनदेखे हिस्से पर सफलतापूर्वक लैंड हुआ, जिसे ‘डार्क साइड’ कहा जाता है।

चांद के अनजाने हिस्से पर होगा बायोलॉजिकल एक्सपेरिमेंट

चीन का यह लूनर रोवर चांद के इस दूसरे हिस्से की स्टडी करेगा, जिसके बारे में दुनियाभर के वैज्ञानिकों के पास अभी बहुत जानकारी नहीं है। लैंडिंग के कुछ देर बाद ही लूनर रोवर ने चांद के दूसरे हिस्से की तस्वीरें भी भेजीं।

Also Read : राम मंदिर विवाद : 10 जनवरी से पहले नई बेंच का होगा गठन, फिर होगी सुनवाई

चीन के नैशनल स्पेस ऐडमिनिस्ट्रेशन ने बताया कि एक लैंडर और एक रोवर से लैस यह रोबॉटिक स्पेसक्राफ्ट चांद पर ऐसे उपकरण लेकर गया है, जो चांद के इस अनजाने हिस्से पर बायोलॉजिकल एक्सपेरिमेंट करेगा। चंद्र अभियान ‘Chang’e-4’ का नाम चीनी पौराणिक कथाओं में चांद की देवी के नाम पर रखा गया है। जानिए चीन के इस मिशन से हमें किन सवालों के जवाब मिलेंगे। साभार

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)