मस्जिद में जांच करने गई पुलिस टीम पर हमला, फायरिंग और पथराव

मालूम हो कि कोराेना वायरस को लेकर 22 मार्च से जिले में लॉकडाउन है

0 1,745

बिहार के मधुबनी जिले के झंझारपुर अनुमंडल के अंधराठाढ़ी प्रखंड के गीदड़गंज गांव की मस्जिद में मंगलवार शाम सोशल डिस्टेंसिंग का पाठ पढ़ाने गई पुलिस और प्रशासन की टीम पर लोगों ने हमला कर दिया। हमलावरों ने बवाल करते पथराव शुरू कर दिया जिससे अंचल अधिकारी सहित अन्य कर्मी जख्मी हो गए। इस दौरान ग्रामीणों की ओर से फायरिंग भी की गई।

मालूम हो कि कोराेना वायरस को लेकर 22 मार्च से जिले में लॉकडाउन है। ऐसे में सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करना और पुलिस द्वारा कार्रवाई करने पर उनपर हमला करना कहां तक उचित है। ऐसे हालात में एक जगह जमा होना अक्ल पर पत्थर पड़ने जैसा ही है।

अफरा-तफरी का माहौल-

बवाल बढ़ते देख बीडीओ व थानाध्यक्ष किसी तरह जान बचाकर वहां से निकले। हमलावरों ने प्रशासन की एक गाड़ी को क्षतिग्रस्त कर तालाब में गिरा दिया। इस दौरान अंधराठाढ़ी थाना से लेकर गीदड़गंज तक अफरा-तफरी का माहौल है। मधुबनी एसपी डॉ. सत्यप्रकाश ने बताया कि थानाध्यक्ष को मस्जिद में भीड़ और बाहरी लोगों के होने की सूचना मिली थी।

इसपर जब पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की टीम पहुंची तो ग्रामीणों के एक गुट ने अचानक हमला बोल दिया। हमलावरों पर एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तारी की कार्रवाई होगी। वहीं झंझारपुर एसडीपीओ ने ग्रामीणों द्वारा गोली चलाने की पुष्टि की।

मस्जिद में कई लोगों क होने की मिली थी सूचना-

जानकारी के अनुसार पुलिस को मस्जिद में जमात में कई लोगों के शामिल होने की सूचना मिली थी। विदेश की यात्रा से लौटे लोगों के भी जमात में शामिल होने की भी सूचना थी। अंधराठाढ़ी बीडीओ राजेश्वर राम, सीओ विष्णुदेव सिंह व थानाध्यक्ष अमृत लाल वर्मण दल बल के साथ शाम करीब साढ़े छह बजे गीदड़गंज गांव स्थित मस्जिद पहुंचे।

भीड़ देख पुलिस व प्रशासन के अधिकारियों ने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग बनाने को कहा। आदेश मानने से इनकार करने पर जब पुलिस ने सख्ती दिखाई तो लोगों ने हमला कर दिया। पुलिस ने जवाबी कार्रवाई शुरू की तो छतों से पत्थरबाजी शुरू हो गई। हालात बेकाबू हो गया। हमले में सीओ जख्मी हो गए। अन्य कर्मियों को चोटें आयीं।

यह भी पढ़ें: Shaheen Bagh Protest: हाईकोर्ट ने पुलिस पर छोड़ा, कहा जनहित का रखें ध्यान

यह भी पढ़ें: ‘जामा मस्जिद पाकिस्तान में नहीं, जो वहां नहीं कर सकते प्रदर्शन’

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More