बंद होने वाला है यह बैंक, निकाल लें अपना पैसा वरना होगी परेशानी

0 2

भारत का एक और बैंक बंद होने वाला है!

नाम है आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट्स बैंक।

यह बैंक जल्द ही अपना कारोबार समेटने जा रहा है।

ग्राहकों के लिए बड़ी खबर

आइडिया पेमेंट्स बैंक (Idea Payments Bank) के ग्राहकों के लिए बड़ी खबर है।
आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट्स बैंक अपना कारोबार समेटने जा रहा है।
यानी जल्द ही आइडिया पेमेंट्स बैंक बंद हो जाएगा।
ऐसे में बैंक के ग्राहकों के लिए मुश्किल हो सकती है।

आरबीआई ने बताया कंपनी ने मर्जी से कारोबार समेटने का आवेदन किया

इस संदर्भ में भारतीय रिजर्व बैंक ( RBI ) ने बताया कि कंपनी के अपनी मर्जी से अपना कारोबार समेटने का आवेदन किया है।
आवेदन के बाद उसके परिसमापन को मंजूरी दे दी गई है।
बता दें कि आरबीआई ने कहा है कि बॉम्बे हाईकोर्ट ने डेलॉयट टूश तोमात्सु इंडिया एलएलपी (Deloitte Touche Tohmatsu India LLP) के वरिष्ठ निदेशक विजयकुमार वी अय्यर को इसके लिए लिक्विडेटर नियुक्त किया है।

ग्राहकों से कहा वो अपने बैलेंस जल्द से जल्द ट्रांसफर करा लें

जुलाई 2019 में ही आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट्स बैंक ने यह घोषणा कर दी थी!

वह जल्द ही अपना कारोबार समेटेगा।
ग्राहकों से कहा था कि वो अपने बैलेंस को जल्द से जल्द ट्रांसफर करा लें।
अगर आपने समय रहते बैंक से अपना पैसा नहीं निकाला, तो हो सकता है कि पैसा फंस जाए।

कारोबार का ‘अव्यवहारिक’ होना वजह

कारोबार समेटने की वजह कंपनी ने ‘अप्रत्याशित घटनाक्रम’ के चलते कारोबार का ‘अव्यावहारिक’ होना बताई थी।
अब तक भुगतान बैंकिंग बाजार में टेक महिंद्रा, चोलामंडलम इन्वेस्टमेंट एंड फाइनेंस कंपनी और दिलीप सांघवी, आईडीएफसी बैंक लिमिटेड और टेलिनॉर फाइनेंशल सर्विसेज के गठबंधन में बना भुगतान बैंक बाजार छोड़ने की घोषणा कर चुके हैं।

अप्रैल 2016 में शुरू हुआ था बैंक

अगस्त 2015 में आइडिया पेमेंट्स बैंक को भारतीय रिजर्व बैंक से लाइसेंस मिला था।
अप्रैल 2016 में आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट्स बैंक को शुरू किया गया था।
बैंक आदित्य बिड़ला नुवो और आइडिया सेल्युलर का संयुक्त उपक्रम है।

यह भी पढ़ें: बीजेपी: मुस्लिम महिलाओं के शोषण में शामिल होना चाहते हैं ओवैसी

यह भी पढ़ें: बाबर के वंशज बोले, अयोध्या में बने भव्य राम मंदिर

 

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

 

 

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More