अयोध्या विवाद पर कभी भी फैसला, DGP बोले- जरूरत पड़ी तो ठप होगी इंटरनेट सेवा

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला अब कभी भी आ सकता है। ऐसे में कोई अनहोनी न हो इसके लिए उत्तर प्रदेश और खास तौर पर अयोध्या में विशेष सतर्कता बरती जा रही है।

यूपी डीजीपी ओपी सिंह के मुताबिक पुलिस करीब 1,659 लोगों के सोशल मीडिया अकांउट पर नजर रखे हुए है।

हर कीमत पर शांति रहेगी बरकरार-

अगर जरूरत पड़ी तो इंटरनेट सेवाएं सस्पेंड भी की जा सकती है।

पुलिस फोर्स को साफ निर्देश है कि हर कीमत पर शांति बरकरार रहनी चाहिए।

जगह-जगह पुलिस पैदल गश्त कर रही है।

500 को भेजा गया जेल-

डीजीपी ने बताया कि जिलाधिकारी धर्मगुरुओं के साथ बैठक कर रहे हैं।

उन्होंने जानकारी दी कि हमने करीब 6000 शांति वार्ताएं की और 5800 धर्मगुरुओं से मिले।

ओपी सिंह ने बताया कि हमारे रेडार पर अब तक करीब 10 हजार लोग आए हैं।

500 से अधिक लोगों को जेल भेजा जा चुका है।

अयोध्या में संवेदनशील जगहों की पहचान-

डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि हमने अयोध्या समेत कुछ संवेदनशील जगहों की पहचान की है।

उनकी बैरिकेडिंग कर आने-जाने वाले लोगों की तलाशी ली जा रही है।

ओपी सिंह ने कहा कि भीड़ नियंत्रण और अफवाहों को बढ़ने से रोकना हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता है।

यह भी पढ़ें: यूपी में नये DGP की खोज शुरू, अब तक ऐसा रहा O P Singh का कार्यकाल?

यह भी पढ़ें: सराहनीय पहल : मिट्टी के दीयों से रोशन होंगे यूपी पुलिस के थाने

 

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)