भारत में आरोग्य सेतु सबसे सुरक्षित ऐप

इस ऐप को विकसित करने वाले माय जीओवी के सीईओ अभिषेक सिंह का बयान

0 100
न्यूयॉर्क : कोरोना संक्रमण के प्रसार को ट्रेस करने में अहम रोल निभा रहे भारत के आरोग्य Arogya सेतु से गोपनीयता संबंधी चिंताओं को खारिज करते हुए, माय जीओवी के सीईओ अभिषेक सिंह ने इसे उन सभी ऐप्स की तुलना में सबसे सुरक्षित बताया है जो वर्तमान में भारतीयों द्वारा उपयोग किए जा रहे हैं।

माय जीओवी ने किया विकसित

माय जीओवी ने Arogya सेतु ऐप विकसित किया है और अप्रैल में इसे लॉन्च किया।

सिंह ने मंगलवार को एक वीडियो साक्षात्कार में बताया, “भारत में उपयोग हो रहे किसी अन्य Arogya ऐप में इतने सिक्योरिटी फीचर्स नहीं हैं, जितने Arogya सेतु ऐप में हैं। आलोचकों का हम स्वागत करते हैं लेकिन हम जो करते हैं वह भारत के लोगों के सर्वोत्तम हित में होता है।”

पूरी गोपनीयता

एक फ्रांसीसी सुरक्षा शोधकर्ता बैप्टिस्ट रॉबर्ट ने 6 मई के मीडियम ब्लॉग पोस्ट में कहा कि वह अपने स्थान को बदलने और संक्रमित उपयोगकतार्ओं के स्थान को जूम इन करने में सक्षम थे।

माय जीओवी ने रॉबर्ट की सुरक्षा चिंताओं पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए प्रश्नोत्तर श्रेणी में गोपनीयता के विवरण को विस्तार से लिखा। उदाहरण के लिए, 11 मई को जब आरोग्य सेतु के 98.5 मिलियन डाउनलोड हुए तो पता चला कि इनमें से “केवल 0.013 प्रतिशत” लोगों के डेटा को ही सर्वर पर अपलोड किया गया था, जिनकी ब्लूटूथ संपर्कों के जरिए पहचान सकें और उन्हें सचेत कर सकें।

11 करोड़ लोग डाउनलोड कर चुके हैं

सिंह की टिप्पणी ऐसे समय में आई है जब भारत में संपर्क ट्रेसिंग के लिए किए जा रहे प्रयास में इस Arogya ऐप को देश में 107 मिलियन यानि कि 10.7 करोड़ से ज्यादा बार डाउनलोड किया गया है, जबकि देश में लगभग 500 मिलियन यानि कि 50 करोड़ स्मार्टफोन उपयोगकर्ता हैं।
ऐप हॉटस्पॉट को बिना ऐप के जरिए चिन्हित करने में “सात दिन तेज”

चिन्हित करने में “सात दिन तेज”

बता दें कि आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, भारत में कोविड 19 के मामलों ने 1,00,000 का निशान पार कर लिया है, वहीं 3,300 से अधिक लोग इस वायरस से मर चुके हैं।

यह भी पढ़ें: क्या कोरोना वायरस धूप में मर जाता है?

यह भी पढ़ें: अब नए इलाकों में पांव पसारता कोरोनावायरस

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्प इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More