धर्मस्थलों पर इकट्ठे होकर अराजकता फैलाने का समय यह नहीं है : एआर रहमान

लोग बाग सरकार की सलाह अमल में लायें और स्व-एकांतवास को बनाए रखें

0 145

ऑस्कर विजेता भारतीय संगीतकार AR Rahman ने बुधवार को सोशल मीडिया पर अपने सभी प्रशंसकों से इस बात की अपील की कि वे सरकार की सलाह का पालन करें और स्व-एकांतवास को बनाए रखें। इसके साथ ही AR Rahman ने यह भी कहा कि यह धार्मिक जगहों पर एकत्रित होकर अराजकता फैलाने का समय नहीं है। दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके के मरकज में धार्मिक कार्यक्रम तब्लीगी जमात ने देश में कोरोनावायरस के खतरे को और बढ़ा दिया है। धर्म से जुड़ा हुआ यह मुद्दा आजकल काफी सूर्खियों में बना हुआ है और इसी के मद्देनजर AR Rahman का यह बयान आया है।

चिकित्सकों, नर्सो व अन्य सभी कर्मचारियों को धन्यवाद कहिये

AR Rahman ने अपने ट्विटर पर लिखा, “प्यारे दोस्तों, यह संदेश पूरे भारत के अस्पतालों व क्लीनिकों में काम करने वाले चिकित्सकों, नर्सो व अन्य सभी कर्मचारियों को उनकी बहादुरी और निस्वार्थता के लिए धन्यवाद कहने के लिए है। यह देखकर वाकई में दिल भर जाता है कि इस घातक महामारी का सामना करने के लिए वे किस कदर तत्पर हैं। हमारी जान बचाने के लिए वे अपनी जान को खतरे में डाल रहे हैं। यह हमारे मतभेदों को भूल जाने और इस अदृश्य दुश्मन के खिलाफ एकजुट होने का समय है, जिसने पूरी दुनिया में तबाही मचा कर रखी है। यह मानवता और आध्यात्मिकता को काम में लाने का समय है। अपने पड़ोसियों, वरिष्ठ नागरिकों, सुविधाओं से वंचित लोगों और अप्रवासी मजदूरों की मदद करें।”

Tweet

यह धार्मिक स्थलों पर इकट्ठा होकर अराजकता फैलाने का समय नहीं

AR Rahman आगे लिखते हैं, “ईश्वर आपके दिल (सबसे पवित्र जगह) में हैं, इसलिए यह धार्मिक स्थलों पर इकट्ठा होकर अराजकता फैलाने का समय नहीं है। सरकार की सलाह का पालन करें। कुछ दिनों का एकांतवास आपको आगे आने वाले कई सारे साल दे सकते हैं। वायरस को फैलाएं नहीं और अन्य लोगों को नुकसान पहुंचाने की वजह न बनें। यह बीमारी आपको इस बात की भी चेतावनी नहीं देती है कि आप वाहक हैं, इसलिए यह न सोचें कि आप संक्रमित नहीं हैं। यह झूठी अफवाहों को फैलाने और अधिक चिंता व डर पैदा करने का वक्त नहीं है। दयावान और विचारशील बनें, आपके हाथों कई लोगों की जिंदगी है।”

-Adv-

यह भी पढ़ें: दुकान खोलकर पुलिस से बोला, मैं किसी सरकार का आदेश नहीं मानता

यह भी पढ़ें: मस्जिद में जांच करने गई पुलिस टीम पर हमला, फायरिंग और पथराव

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More