akhilessh yadav mandir

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव

चुनावी भंवर से ‘विष्णु’ पार लगाएंगे अखिलेश की नैया !

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सियासत के मैदान में एक बड़ा दांव लगाया है। अखिलेश यादव ने बुधवार को ऐलान किया है कि अगर हम आगामी 2019 लोक सभा चुनाव जीते तो इटावा में भगवान विष्णु के नाम से शहर बनाएंगे। जिसमें भगवान विष्णु का अंकोरवाट की तर्ज पर विशाल मंदिर(temple) बनाएंगे।

इटावा में भगवान विष्णु के नाम से बसाएंगे शहर

अभी तक भारतीय जनता पार्टी को राजनीतिक मुद्दा राम मंदिर बताने वाले अखिलेश यादव खुद उसी से मिलता मुद्दा उठाते हुए जीत की राह आसान करने में लग गए है। शायद इसलिए अखिलेश यादव भगवान राम के दूसरे अवतार विष्णु को चुना है। मंदिर को राजनीतिक मुद्दा बना कर भाजपा के विजय रथ को रोकने का प्रयास करने की तैयारी में है।

Also Read :  साहब मैं देर करता नहीं पत्नी के पैर दबाने और रोटी बनाने में हो जाती है देर

ये दांव अखिलेश यादव का अब तक बड़ा दांव माना जा रहा है। अखिलेश ने कहा कि अगर हम चुनाव जीतकर सत्ता में आते हैं तो रोजगार के तमाम साधन उपलब्ध कराएंगे। ये तो अभी शुरुआत है जैसे-जैसे लोक सभा चुनाव नजदीक आ रहा है सभी राजनीतिक दलों के लुभावने वायदों की बहार आना शुरु हो गई है।

कहां है अंकोरवाट मंदिर

कंबोडिया में सबसे बड़ा भगवान विष्णु का मंदिर बना है। ये मंदिर भारत से करीब 4800 किमी दूर कंबोडिया में बना है। दुनिया का सबसे बड़ा मंदिर है अंकोरवाट मंदिर। विशालता के कारण इस मंदिर को गिनीज बुक ऑफ रिकार्ड में भी दर्ज किया गया है।11वीं सदी में हिंदू शासक सूर्य वर्मन ने बनवाया था। इसी मंदिर की तर्ज पर अखिलेश यादन ने भी मंदिर बनवाने का एलान किया है। मंदिर में इस्तेमाल किए गए हर एक पत्थर का वजन डेढ़ टन है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)