बड़ी संख्या में संक्रमित पाए गए वैष्णो देवी यात्री, दो दिन में 150 यात्री मिले कोरोना पॉजिटिव

150 वैष्णो देवी यात्री पाए गए कोरोना संक्रमित

0 324

जम्मू-कश्मीर में कोरोना संक्रमण के मामले बेशक कम हो गए हैं, लेकिन अन्य प्रदेशों से माता वैष्णो देवी के दर्शन के लिए पहुंच रहे यात्री बड़ी संख्या में संक्रमित पाए जा रहे हैं। इससे प्रशासन खासा चिंतित है। नेशनल हेल्थ मिशन से मिले आंकड़ों के अनुसार जम्मू संभाग में संक्रमण के जो मामले आ रहे हैं, उनमें अन्य राज्यों से आने वाले यात्री काफी अधिक हैं। दो दिन में डेढ़ सौ यात्री संक्रमित पाए गए हैं। सभी सीधे ट्रेन से कटड़ा पहुंचे थे। जून के अंतिम सप्ताह में जब संक्रमण के मामले जम्मू संभाग में कम हुए तो माता वैष्णो देवी आने वाले यात्रियों में से अधिकांश के संक्रमित होने की संख्या बढऩे लगी।

ये भी पढ़ें- डेल्टा वैरिएंट से डटकर करेंगे मुकाबला, सर्तकता के साथ ये उपाय ही बचाएंगे आपकी जान

कब कितने मामले आए

24 जून को रियासी जिले में 41 मामले आए, सभी यात्री थे। 25 जून को रियासी जिले में 96 मामले आए, उनमें 79 यात्री थे। 26 को रियासी जिले में कुल 19 मामले आए, उनमें से 13 यात्री थे। इसके कुछ दिन बाद संक्रमण के मामले नहीं आए। बीते रविवार को वैष्णो देवी के दर्शनों के लिए आने वाले 75 यात्री संक्रमित आए। सोमवार को 72 और मामले आए। रियासी में आने वाले संक्रमितों को घर भेजा जा रहा है। अगर वे प्रोटोकाल में नहीं जा सकते हैं तो उन्हें सरकार के सेंटरों में रखा जा रहा है। श्राइन बोर्ड ने पैंथल में सेंटर बनाया है।

कश्मीर में संक्रमितों की संख्या अधिक

सोमवार को आए 274 संक्रमितों में 113 जम्मू संभाग और 161 कश्मीर संभाग के हैं। जम्मू संभाग में 72 मामले दर्ज किए गए। जम्मू में मात्र चार, राजौरी में 8, डोडा में 6, कठुआ में दो मामले आए। कश्मीर संभाग में श्रीनगर जिले में 53, बारामुला में 10, बडग़ाम में 12, पुलवामा में 19, कुपवाड़ा में 16, अनतंनाग में 19 मामले आए। अब कश्मीर संभाग में भी मामले कम आना शुरू हो गए हैं। वहीं सोमवार को कुल 6 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हुई। अब तक जम्मू जिले में 1136 मरीजों की मौत हो चुकी है।

ये भी पढ़ें- कोरोना से ठीक हुए 22 फीसद मरीज हुए ‘लॉन्‍ग कोविड सिंड्रोम’ के शिकार, आप भी हो जाएं सावधान

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More